2022 में Mutual Fund में निवेश करने के 11 फायदे

Reading Time: 6 minutes

Hello दोस्तों कैसे है आप लोग, मैं उम्मीद करता हु की आप सब ठीक होंगे जैसा की आज Topic है जैसा की Mutual fund ke fayde क्या है ? दोस्तों जैसा की आज के समय में Mutual Fund की इतनी सारे अच्छी अच्छी योजनाए है जो बहुत से लोगों को आकर्षित कर रही है, जिसके कारण ज्यादातर लोग म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश करने के लाभों (Mutual fund ke fayde) के बारे में जानना चाहते हैं।

Mutual Fund मौजूदा समय में निवेश (Investment ) का बड़ा जरिया बन गया है। तो, आइए इस Article के माध्यम से Mutual Fund के कुछ लाभों, निवेश करने के लिए सर्वोत्तम Mutual Fund, Mutual Fund में निवेश के कर लाभ और बहुत कुछ के बारे में जानें।

Mutual Fund के 11 फायदे [2022] – (Mutual Fund Ke Fayade)

तो आइये अब जब हम Mutual Fund के बारे में थोड़ा जान और समझ गए हैं तो ऐसे में आइए आगे जानते हैं कि आखिर Mutual Fund ke fayde क्या हैं ?

1. कई योजनाओं का लाभ 

निवेशकों की जरूरतों के अनुसार Mutual Fund के तहत SEBI द्वारा विभिन्न योजनाएं जैसे इक्विटी, Debt, हाइब्रिड, समाधान उन्मुख और अन्य योजनाएं बनाई गई हैं।

इक्विटी फंड के जरिए निवेशक अलग-अलग कंपनियों के शेयरों में आसानी से निवेश कर सकते हैं। यह काफी जोखिम भरा फंड है, लेकिन इसे बेहतर रिटर्न देने वाला फंड भी माना जाता है।

Debt फंड को कम जोखिम वाला माना जाता है क्योंकि वे ट्रेजरी बिल, कॉरपोरेट बॉन्ड और सरकारी प्रतिभूतियों में निवेश करते हैं। हाइब्रिड फंड लगभग इक्विटी की तरह होते हैं। ऐसी कई योजनाएं हैं जिनका निवेशक लाभ उठा सकते हैं।

ज्यादा जाने – Top Mutual Funds to invest in 2022- Hindi

2. निवेश का विविधीकरण

Mutual Fund के अंतर्गत शेयर, बांड और स्टॉक जैसे कई क्षेत्र उपलब्ध हैं, जिनमें निवेशक आसानी से अपने पसंदीदा क्षेत्र में निवेश कर सकते हैं। यहां निवेशक अपने बजट के अनुसार Share या Fund खरीद सकते हैं।

Mutual Fund ke fayde में से एक यह है कि वे आपके पैसे को विभिन्न क्षेत्रों और परिसंपत्तियों में निवेश करते हैं, जिससे आपके निवेश में विविधता आती है।

मान लीजिए कि बैंकिंग या ऑटो सेक्टर जैसे सेक्टर में मंदी है, तो भी इससे पूरे पोर्टफोलियो पर ज्यादा फर्क नहीं पड़ेगा क्योंकि इस सेक्टर में बहुत कम निवेश होगा, जिसका पूरे Portfolio पर कोई खास असर नहीं पड़ेगा।

3. कम पैसो में निवेश करने का विकल्प

अगर आप सीधे Share Market में निवेश करना चाहते हैं तो आपको अधिक पैसो की आवश्यकता होगी। लेकिन आप बहुत कम पैसे में Mutual Fund में निवेश करके शेयर बाजार के रिटर्न का फायदा उठा सकते हैं।

इसका एक और फायदा यह है कि आप अपने Budget के हिसाब से करीब 500 से 1000 रुपये के SIP से शुरुआत कर सकते हैं। इसके लिए आपको ज्यादा पैसे की भी जरूरत नहीं है और कुछ सालों बाद आपको इससे बड़ा फायदा मिल सकता है।

इसे भी पढ़े –  Mutual फण्ड क्या होता है – What is Mutual Fund in Hindi ?

4. लक्ष्यों को प्राप्त करने में सहायक

Mutual Fund के माध्यम से हम व्यवस्थित रूप से निवेश करके अपने लक्ष्यों को प्राप्त कर सकते हैं। इन्हें Mutual Fund ke fayde में सबसे अच्छा माना जाता है।

आइये example से समझते है, आप एक Car खरीदने, घर खरीदने के लिए लक्ष्य निर्धारित करके एक Portfolio बना सकते हैं। बाजार में हजारों योजनाएं उपलब्ध हैं, उनमें से आप अपनी निवेश जरूरतों और लक्ष्यों के अनुसार निवेश कर सकते हैं। आप अपने लक्ष्य के अनुसार बेहतरीन Mutual Fund में निवेश करके अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हैं।

5. अच्छा Returns और Compounding की शक्ति

दोस्तों वैसे तो Mutual Fund में निवेश करने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि आपको Mutual Fund में अन्य निवेशों की तुलना में अधिक और अधिक आकर्षक returns मिलता है।

यहां आपको Compounding की ताकत भी देखने को मिलती है। आप जितना अधिक समय तक अपना निवेश रखेंगे, आपका returns उतनी ही तेजी से बढ़ेगा। compounding की अपनी शक्ति के कारण SIP बहुत लोकप्रिय हैं।

यह भी पढ़े – SIP क्या है और SIP के फायदे | SIP in Hindi Full Information in 2022

6. व्यावसायिक प्रबंधन की सुविधा

दोस्तों जब भी आप कोई Mutual Fund खरीदते हैं तो आपकी राशि से व्यय अनुपात के रूप में कुछ पैसे काट लिये जाते हैं। इस पैसे का एक हिस्सा आपके Portfolio को प्रबंधित करने के लिए एक पेशेवर फंड मैनेजर को दिया जाता है। यहां फंड मैनेजर अपने ज्ञान और अनुभव के साथ आपके लिए कम जोखिम के साथ अधिक returns प्राप्त करने का प्रयास करते हैं।

जैसा कि आप जानते हैं कि व्यय अनुपात बहुत कम है। आप इस बहुत ही कम लागत में किसी पेशेवर की सेवाएं प्राप्त कर सकते हैं। mutual fund की लागत कम होने का कारण यह है कि कई लोग एक ही समय में एक fund में निवेश करते हैं, जिससे उस फंड के प्रबंधन की लागत सभी व्यक्तियों में विभाजित हो जाती है।

7. सुविधाजनक निवेश प्रक्रिया

Mutual Fund के जरिए निवेशक किसी भी Trusted Apps या Mutual Fund की वेबसाइट और किसी एजेंट की मदद से आसानी से निवेश कर सकते हैं, अन्य निवेश विकल्पों की तुलना में Mutual Fund की प्रक्रिया बहुत सरल है।

वर्तमान में, ऐसे कई Platform उपलब्ध हैं जिनके माध्यम से निवेशक विभिन्न म्यूचुअल फंडों की योजनाओं को आसानी से खरीद और Track कर सकते हैं, returns और Growth की तुलना कर सकते हैं। आज Online की सुविधा ने mutual fund में निवेश की प्रक्रिया को आसान बना दिया है।

8. Mutual Fund के साथ समय की बचत

यदि आप या कोई निवेशक Mutual Fund के माध्यम से फंड में अपने पैसो को निवेश कर रहा है, तो उसे बाजार के उतार-चढ़ाव के लिए किसी तरह की निगरानी की जरूरत नहीं है और न ही निवेशक को शोध और विश्लेषण के लिए अलग से समय निकालने की जरूरत है। .

सिर्फ एक बार निवेश करने के बाद निवेशक 6 महीने या 1 साल बाद कभी भी अपने Portfolio की जांच कर सकते हैं।

9. सुरक्षित निवेश की गारंटी

Mutual Fund में SEBI की बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका होती है, जो Mutual fund की सभी योजनाओं पर नज़र रखता है और निवेशकों की आवश्यकता के अनुसार समय-समय पर योजनाएँ तैयार करता है।

म्यूचुअल फंड सेबी द्वारा पंजीकृत है, इसलिए SEBI Mutual Fund को नियंत्रित करता है ताकि निवेश की गई राशि पूरी तरह से सुरक्षित हो।

इसे भी पढ़े – 11 शेयर मार्केट के Advance Tips बने शेयर मार्केट में Expert

10. पैसे निकालने की सुविधाजनक प्रकिया (तरलता)

कई बार ऐसा होता है कि हम निवेश कर देते हैं लेकिन किसी कारणवश हमें बीच में पैसे की जरूरत पड़ती है और निवेश किए गए पैसे को निकालने की जरूरत पड़ती है।

कई निवेश विकल्पों में लॉक-इन अवधि होती है, जिसके कारण आप लॉक-इन अवधि की समाप्ति के बिना उनसे पैसे नहीं निकाल सकते। लेकिन Mutual Fund में ऐसी कोई समस्या नहीं है. आप जब चाहें अपना पैसा निकाल सकते हैं। निकासी अनुरोध की तारीख से 2 से 3 दिनों के भीतर पैसा आमतौर पर आपके Account में जमा कर दिया जाता है।

Mutual Fund टैक्स सेवर ELSS में 3 साल की लॉक-इन अवधि होती है।

तरलता का लाभ म्यूचुअल फंड योजनाओं को और अधिक लोकप्रिय बनाता है।

11. प्रशासनिक गतिविधियों का उचित प्रबंधन

सभी Mutual Fund कंपनियां कागजी कार्रवाई और प्रशासनिक गतिविधियों के साथ अपने निवेशकों के लिए उचित व्यवस्था करती हैं। जो निवेशकों को समय-समय पर नेट एसेट वैल्यू (एनएवी) और Account Statement के जरिए Portfolio की सभी गतिविधियों की जानकारी देता रहता है।

आपके सवाल और हमारे जवाब (FAQs)

Q.1 – सबसे बेस्ट म्यूचुअल फण्ड कौन सा है?

Answer – इक्विटी म्यूचुअल फण्ड को ही सबसे सबसे बेस्ट म्यूचुअल फण्ड माना जाता है।

Q.2 – म्यूचुअल फंड में SIP क्या है?

Answer – सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (एसआईपी) म्यूचुअल फंड में निवेश का सबसे लोकप्रिय तरीका बन गया है। एसआईपी उन लोगों के लिए बेहतर है जो खुद को शेयर बाजार की पेचीदगियों से दूर रखना चाहते हैं और जो बाजार के जोखिम से बचना चाहते हैं।

Q.3 – Mutual Fund में कितना रिटर्न मिलता है?

Answer – म्यूचुअल फण्ड में कम से कम 10 से 12 प्रतिशत का रिटर्न मिलता है।

Q.4 – Mutual Fund एजेंट कौन है?

Answer – Mutual Fund एजेंट वह होता है जिसने नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ सिक्योरिटीज मार्केट्स (NISM) द्वारा आयोजित परीक्षाओं को पास करने के बाद वैध प्रमाण पत्र प्राप्त किया हो। आमतौर पर ज्यादातर निवेशक ब्रोकर या एजेंट की मदद से निवेश करना पसंद करते हैं।

यह भी पढ़े –

Conclusion – Mutual Fund ke Fayde in hindi 2022

आज के इस पोस्ट मे मैंने आपको बताया कि Mutual Fund ke Fayde?, 2022 में Mutual Fund में निवेश करने के फायदे, etc. के बारे मे आज हमने आपके साथ Discuss किया है।

अगर आपको ये Article पसंद आया, और इस Article को पढ़कर आपको कुछ सीखने को मिला, तो आप Comment करके हमे जरूर से बताये।।

धन्यवाद ! (Thank You) 

Share Market, Make Money Online और Investment Related सभी जानकारी के लिए Visit करे।

मेरा नाम विशाल कुशवाहा है और मैं Uttar Pradesh के प्रयागराज शहर मे रहता हु।अभी मै Graducation last year (B.SC.) का Student हूँ | मुझे Share Market, finance, Cryptocurrency, Investment, और Digital Marketing के बारे में पढ़ने और लिखने का शौक है।मै इस Blog के माध्यम से Readers को Share Market और finance और निवेश की जानकारी हिंदी भाषा में देना चाहता हूँ ।

Leave a Comment