IPO क्या है और इसमें कैसे निवेश करें 2022 ?

Reading Time: 6 minutes

IPO kya hai और IPO में निवेश करें 2022 – दोस्तों क्या आप भी उनमे से है जो IPO में invest करके लिस्टिंग गेन कमाना चाहते हैं? क्यूँकी अधिकांश रिटेल वाले निवेशक बस लिस्टिंग गेन के लिए ही IPO में अप्लाई करते हैं।

जैसा की बहुत सारे निवेशकों को IPO के बारे में सही जानकारी नहीं होती और कुछ निवेशकों को सही जानकारी की तलाश हैं।

दोस्तों, यदि आप भी सर्च ही कर रहे थे की IPO kya hai और IPO में निवेश करें 2022 ? या IPO के बारे में सही जानकरी की तलाश कर रहे थे तो हम इस Article के माध्यम से आपकी खोज पूरी हो सकती हैं। आज हम जानेंगे की IPO kya hai, What is IPO in Hindi और IPO से जुड़े हर सवाल का जवाब।

IPO क्या है? (What is IPO in Hindi)

दोस्तों वैसे तो IPO का Full Form – Initial Public Offering (IPO) होता है, दोस्तों जैसा की ये मान लीजिये की हम कोई बिज़नेस शुरुआत करते है और बिज़नेस अच्छा चलने लगता है, तो उसे और जगहों पे खोलने या उसको और बड़ा करने के लिए हमें काफी पैसो की जरूरत पड़ती है |

IPO kya hai

और फिर क्या, हम सीधे जाके लोगो से पैसे मांग नहीं सकते है, तो उसके कम्पनिया IPO (Initial Public Offering) निकालती है, जिसको आप खरीद करके आप भी उस Company कुछ हिस्से के मालिक बन सकते है |

और इससे कंपनी के मालिक को पैसे की जरूरत भी पूरी हो गयी और वो पैसे को उपयोग में लेके अपने Business को बड़ा कर सकता है |

साधारण भाषा में समझे तो, जब एक कंपनी अपने समान्य स्टॉक या शेयर को पहली बार जनता के लिए जारी करता है तो उसे आईपीओ, इनीशियल पब्लिक ऑफरिंग (सार्वजनिक प्रस्ताव) कहते हैं।

IPO एक प्रकार से प्राइमरी मार्केट के अंतर्गत आता हैं, और IPO के बाद में कंपनी के शेयर्स ट्रेडिंग के लिए स्टॉक मार्केट में लिस्ट हो जाते हैं। ये लिस्टिंग NSE या BSE या दोनों स्टॉक एक्सचेंज पर हो सकती हैं।


IPO kya hai और कंपनी IPO क्यों लाती है ?

दोस्तों, ये जानने की बाद की IPO kya hai (what is IPO in hindi ), अब आपके मन में ये सवाल भी जरूर ही आ रहा होगा, की आखिर एक कंपनी अपने शेयर्स को किसी आम आदमी या जनता को बेचने के लिए क्यों ऑफर करती हैं या IPO क्यों लेकर आती हैं?

दोस्तों किसी कंपनी द्वारा IPO लाने के पीछे कई कारण हो सकते हैं जो नीचे इस प्रकार हैं –

  • पिछले कर्ज का भुगतान करने के लिए :

दोस्तों जैसा की ये होता है की कई बार कम्पनियाँ खुद को एक्सपेंड करने के चक्कर में पैसे उधार लेके खुद का अच्छा खासा नुकसान कर लेते है और फिर उन पैसो को रिकवर करने या फिर नुकसान से वापिस बचने के लिए IPO निकलती है । बैंको से और अधिक कर्ज या लोन लेने की बजाय कंपनियां अपनी हिस्सेदारी बेचकर IPO के माध्यम से पैसे जुटाने का प्रयास करती हैं।

इसकी वजह से कंपनी के ऊपर अतिरिक्त वित्तीय बोझ नहीं पड़ता। IPO के माध्यम से पैसा जुटाकर कंपनी है तो कर्जमुक्त हो जाती हैं या अपना कर्जा कम कर लेती हैं।

  • बिज़नेस को और ज्यादा बड़ा करने के लिए :

दोस्तों जैसा की आज कल ज्यादातर यही होता है की कम्पनिया अपने बिज़नेस को बड़ा और उसका विस्तार करने फिर नए सर्विसेज या नए प्रोडक्ट को मार्किट में लांच लिए उन्हें पैसे की जरूरत होती है | और इस स्थिति में ये किसी बैंक कर्ज लेने बजाय IPO निकाल कर नए कैपिटल जुटाने का प्रयास करते है |

  • मार्केट अपना नाम लाने या प्रतिष्ठा के लिए :

जैसा की हमने आपको ऊपर ही बताया है की किसी कंपनी का शेयर मार्केट में नाम तब तक नहीं होता है जब तक एक बार IPO न हो जाये, तो कुछ कम्पनिया शेयर मार्केट में रजिस्टर्ड होकर अपनी विश्वसनीयता और प्रतिष्ठा में वृद्धि करना चाहती हैं और इसलिए वो अपने IPO लाती है ।

शेयर बाजार में लिस्ट होने के कारण कंपनी की तरलनामता (Liquidity) में भी वृद्धि होती हैं। हमें उम्मीद है की आपको IPO kya hai (what is IPO in hindi ) के बारे में जानकारी यहाँ तक अच्छी लगी होगी।

इसे भी पढ़े – SIP क्या है और SIP के फायदे | SIP in Hindi Full Information in 2022


IPO में निवेश कैसे करें ? (IPO में Invest कैसे करें  2022)

जैसा की हम आपको बता दे की कोई भी IPO जारी करने वाली कंपनी अपने IPO को इनवेस्टर्स या निवेशकों के लिए 3-10 दिनों के लिए ही बस ओपन करती है |

इसका मतलब यदि कोई भी IPO जब आता है, तो उसे कोई भी आम आदमी या निवेशक 3 से 10 दिनों के भीतर खरीदना चाहता है तो ही खरीद सकता है नहीं उसे नहीं मिल सकता है | और काफी कंपनीया अपने IPO जारी करने की अवधि सिर्फ 3 दिन भी रखती है तो कोई तीन दिन से ज्यादा रखती है |

IPO me kya hai kaise nivesh kare
Initial Public Offering

आप इन निश्चित दिनों के भीतर की कंपनी की साईट पर जाकर या फिर Register Brokerage के जरिए IPO में Invest कर सकते हैं |

अगर आपको IPO अलॉटमेंट हुआ तो आपके पैसे आपके बैंक अकाउंट से डेबिट या कट जायेंगे और कोई अलॉटमेंट (मतलब नहीं मिला ) नहीं हुआ है तो पैसा वापस अनब्लॉक हो जाता हैं। आपका पैसा Allotment के दिन से सामान्यतः दो दिन में अनब्लॉक हो जाता हैं।

IPO kya hai, IPO कितने प्रकार के होते हैं? 

आईपीओ को दो तरह से बांटा जा सकता है और इसे दो भागों में बांटने का कारण उसकी कीमतों का निर्धारण होता है.

  1. FIX PRICE ISSUE OR FIX PRICE IPO
  2. BOOK BUILDING IPO

1.) फिक्स प्राईस आईपीओ (FIX PRICE IPO) – 

Fixed Price IPO का मतलब ये है की, IPO जारी करने वाली कम्पनियाँ IPO जारी करने से पहले जो भी INVESTMENT BANK के साथ मिलकर IPO के Prices के बारे में discussion करती है और फिर उनके साथ meeting में कंपनी IPO का Price भी DECIDE करती है |

और यदि कोई निवेशक IPO खरीदना चाहता है, तो उसे फिक्स प्राइस में ही purchase कर सकता है जो कम्पनियाँ पहले से निर्धारित कर चुकी है |

2.) बुक बिल्डिंग आईपीओ (BOOK BUILDING IPO) –

दोस्तों इसमें कंपनी INVESTMENT BANK के साथ मिलकर IPO का एक PRICE BAND डिसाइड करती है, और प्राईस बैंड डिसाइड करके इसे जारी कर दिया जाता है |और इसके बाद डिसाइड किए गए Price Band में से Investors या निवेशक अपनी Bid को सबस्क्राईब (SUBSCRIBE) करते हैं |

Book Building IPO के प्राईस बैंड दो तरह के होते हैं…

  • FLOOR PRICE –  प्राईस बैंड में अगर IPO का Price कम है तो फ्लोर Price (FLOOR PRICE) कहते हैं |
  • CAP PRICE – अगर IPO का Price ज्यादा है तो इसे कैप Price (CAP PRICE) कहते हैं |

ध्यान देने वाली बात यह है कि बुक बिल्डिंग आईपीओ में कैप प्राईस (CAP PRICE) और फ्लोर प्राईस (FLOOR PRICE) में 20% का अंतर रखा जा सकता है |

इसे भी पढ़े – 2022 में Online पैसे कमाने के 8 आसान तरीके (घर बैठे लाखो कमाए)


आईपीओ IPO में निवेश करने से पहले इन बातो को जरूर जान लेना चाहिए 

  • दोस्तों जैसा की यदि आपने किसी IPO में निवेश किया है, तो आपका निवेश सीधे उस कंपनी के भाग्य से जुड़ा हुआ है। कंपनी आपको गरीब और अमीर दोनों बना सकते है | यदि भाग्य ने साथ दिया तो आप करोड़ पति भी बन सकते हैं और नही दिया तो पैसा डूब भी सकता है।
  • क्या आपको पता है ? कि एक कंपनी जो आम लोगो को अपने शेयर प्रदान करती है, वह पूंजी की प्रतिपूर्ति के लिए ऋणी नहीं होती है।
  • जैसा की आईपीओ IPO में निवेश करने के सबके अनुभव अलग अलग होते है, किसी के अच्छे और किसी के बुरे | इसलिए पहले निवेश करने से पहले व्यक्तिगत वित्त प्रबंधक से सलाह लेने से आपको परेशानी से बचने में मदद मिल सकती है।
  • इस प्रकार के निवेश (मतलब IPO में या बड़े निवेश ) में अधिक जोखिम होता है और यह आपको भारी रिटर्न भी दे सकता है।
  • IPO में निवेश करने के लिए आपको एक Demat खाते की आवश्यकता होती है। आप एक मुफ्त Demat खाते की तलाश कर सकते हैं और निवेश शुरू कर सकते हैं।

क्या आईपीओ IPO में निवेश करना अच्छा है?

आईपीओ IPO में Invest एक अच्छा विचार हो सकता है, लेकिन हर एक IPO में निवेश करना सही नहीं हो सकता है, और इससे आप अपने पैसे डूबा भी सकते है | आखिर

कार, हर एक IPO का कोर्स अलग है। आरंभिक सार्वजनिक पेशकश एक सुविधाजनक मंच प्रस्तुत करती है, खासकर यह शुरुआती निवेशकों के लिए। यह उनके लिए एक अच्छा मौका है कि वे बाजार में संभव दरों पर प्रवेश कर सकें।

Also visit – Happy New Year Quotes In Hindi 2022


Conclusion of the Post:-

आज के इस पोस्ट मे मैंने आपको बताया कि IPO Kya hai?  IPO Full Information in Hindi 2022, IPO me invest kaise kare,etc. के बारे मे आज हमने आपके साथ Discuss किया है।

अगर आपको ये Article पसंद आया, और इस Article को पढ़कर आपको कुछ सीखने को मिला, तो आप Comment करके हमे जरूर से बताये।।
धन्यवाद! (Thank You) 
Share Market, Make Money Online और Investment Related सभी जानकारी के लिए Visit करे।

मेरा नाम विशाल कुशवाहा है और मैं Uttar Pradesh के प्रयागराज शहर मे रहता हु।अभी मै Graducation last year (B.SC.) का Student हूँ | मुझे Share Market, finance, Cryptocurrency, Investment, और Digital Marketing के बारे में पढ़ने और लिखने का शौक है।मै इस Blog के माध्यम से Readers को Share Market और finance और निवेश की जानकारी हिंदी भाषा में देना चाहता हूँ ।

Leave a Comment